Advertisements

रायगढ़ में बिजली का टावर गिरा, 4 मजदूरों की मौत:ठेका कंपनी के मजदूर लगा रहे थे नया तार, एक छूटा तो पूरा टावर गिर गया; कई घायल

Advertisements

रायगढ़ में बिजली का टावर गिरा, 4 मजदूरों की मौत

रायगढ़ जिले में शनिवार को बड़ा हादसा हो गया। खरसिया के पास चपले और सेंद्रीपाली के बीच एक बिजली का टावर गिर गया। इस टावर पर लाइन मॉडिफिकेशन का काम किया जा रहा था। करीब 15 मजदूर इसके ऊपर, नीचे और आसपास थे। टावर गिरने से ऊपर चढ़े 4 मजदूरों की गिरने से मौत हो गई और बाकी घायल हो गए।

Advertisements

इस इलाके में नए बिजली टावर लगाने और हाईटेंशन तार के मॉडिफिकेशन का काम चल रहा है। शारदा कंस्ट्रक्शन कंपनी ने यहां इस काम का ठेका ले रखा है। दोपहर करीब 3 बजे यहां लाइन खींची जा रही थी। एक टावर से दूसरे टावर पर लाइन खींचने का काम चल रहा था। कंपनी के 4 मजदूर जिसमें खरसिया के गोविंद भुईया, युगल भुईया, सुरेश रविदास और झारखंड हजारीबाग का ईश्वर तुरी एक टावर में सबसे ऊपर थे। उनके नीचे सत्यप्रकाश राठौर और गोविंद पंडित थे। नीचे और करीब 10 मजदूर और थे।

गौरतलब है कि शारदा कंस्ट्रक्शन कंपनी चपले और सेंद्रीपाली के बीच नए बिजली टावर लगाने और हाईटेंशन तार के मॉडिफिकेशन का काम कर रही है. दोपहर करीब पौने तीन बजे यहां लाइन खींची जा रही थी. ये लाइन एक टावर से दूसरे टावर तक खींची जा रही थी. कंपनी के 4 मजदूर झारखंड के हजारीबाग का रहने वाला ईश्वर तुरी, खरसिया के सुरेश रविदास, युगल भुईया और गोविंद भुईया एक टावर पर ऊपर चढ़े हुए थे. उनके नीचे गोविंद पंडित और सत्यप्रकाश राठौर सहित कई मजदूर और थे.

इस टावर से तार दूसरे टावर तक खींचा जा रहा था। इसी समय टावर से कनेक्ट भारी तार अचानक झूलकर नीचे गिरा। उसके भार से टावर भी घूमा और नीचे गिर गया। टावर के बड़े-बड़े लोहे के गार्डर के नीचे मजदूर दब गए। ऊपर से नीचे गिरे गोविंद, युगल, सुरेश की मौके पर ही मौत हो गई। ईश्वर, सत्यप्रकाश, गोविंद और दूसरे करीब 10-12 मजदूरों को रायगढ़ अस्पताल पहुंचाया गया। वहां ईश्वर ने भी दम तोड़ दिया। अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि बाकी घायलों की स्थिति फिलहाल स्थिर है।

पावर ग्रिड ने कहा टावर हमारा नहीं
इस दुर्घटना के बाद बिजली ट्रांसमिशन का काम देखने वाली कंपनी पावर ग्रिड ने एक बयान जारी कर कहा कि जिस टावर पर दुर्घटना हुई है वह हमारा नहीं है। वह टावर किसी निजी इंडस्ट्री के लिए लगाया जा रहा था।

मुख्यमंत्री ने शोक जताया और बेहतर इलाज के निर्देश दिए
इस दुर्घटना के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शोक जताया है। उन्होंने रायगढ़ कलेक्टर को निर्देश दिए हैं कि सभी घायल मजदूरों को बेहतर से बेहतर इलाज कराया जाए और जो मृतक हैं उनके परिजनों को हर संभव सहायता दी जाए।

पुलिस करेगी मामले की जांच
इस पूरे मामले में रायगढ़-खरसिया के बड़े पुलिस अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंच गए। उन्होंने जांच शुरू कर दी है और मौके पर मौजूद मजदूरों के बयान लिए हैं। पुलिस का कहना है कि जांच के बाद संबंधित ठेकेदार, एजेंसी के खिलाफ अपराध दर्ज किया जाएगा। यह भी देखा जाएगा कि यहां सुरक्षा के कितने उपाए थे।

  • February 6, 2022